Headline

सोमेश्वर : वायरल वीडियो से मचा बबाल, बारिश में डामरीकरण

सोमेश्वर: वायरल वीडियो से मचा बबाल

बारिश में सड़क का डामरीकरण, वायरल वीडियो से मचा बबाल

अल्मोडा जिले के सोमेश्वर क्षेत्र में बारिश के दौरान सड़क का डामरीकरण हो रहा था, स्थानीय प्रसिद्ध फेसबुक पेज सोमेश्वर घाटी – उत्तराखंड द्वारा इसकी वीडियो डाली गई थी जोकि काफी वायरल हो गई, उस वीडियो के आधार पर कई बड़े न्यूज चैनलों ने भी इस घटना की आलोचना करते हुए खबर प्रसारित की, खबर का असर ऐसा हुआ कि शासन-प्रशासन की नींद हराम हो गई। (सोमेश्वर : वायरल वीडियो)

घटना पर विभाग की लीपापोती

जेई, ठेकेदार और पीडब्लूडी के अधिकारी खबर पर लीपापोती करते नजर आए, इसके लिए अल्मोड़ा पीडब्लूडी ने एक स्पष्टीकरण भी दिया लेकिन उस स्पष्टीकरण के बाद विभाग पर ठेकेदार को बचाने का आरोप लगने लगा क्योंकि स्पष्टीकरण पढकर ऐसा महसूस हो रहा है पीडब्ल्यूडी इस घटना का ही डामरीकरण कर रही है।

इन बिंदुओं पर गौर करैं (सोमेश्वर : वायरल वीडियो)

वीडियो में जब साफ-साफ दिख रहा है कि बारिश के दौरान सड़क पर डामरीकरण हो रहा है तो विभाग स्पष्टीकरण में आक्षेप लगाने की बात क्यों कर रहा है? और विभाग का कहना है कि बारिश में काम रोक दिया गया था लेकिन साथ ही ये भी लिखा है कि बारिश के दौरान हुआ काम को मापा नहीं जाएगा और उसका भुगतान नहीं किया जाएगा, इससे विभाग पर फिर सवाल खड़े होने लग गए कि जब बारिश में काम हुआ ही नहीं है तो भुगतान रोकने की बात क्यों लिखी गई?

और सबसे बड़ा सवाल ये उठ रहा है कि मौसम विभाग ने जब कई दिन पहले ही 27 अप्रैल से तीन-चार दिन बारिश होने की आशंका जाहिर कर दी थी तो विभाग ऐसा क्यों लिख रहा है कि उन्हें बारिश का पूर्वानुमान नहीं था? इस स्पष्टीकरण के बाद ऐसा प्रतीत होता है कि सब मिले हुए हैं और एक दूसरे को बचाने के लिए हथकंडे अपना रहे हैं।

इसे भी पढ़े – बुलंद हौसले वाली पहाड़ की लक्ष्मी

कैबिनेट मंत्री रेखा आर्य पर भी उठ रहे हैं सवाल

स्थानीय विधायक और कैबिनेट मंत्री रेखा आर्य के आवास से मात्र 1 किलोमीटर दूरी पर यह काम हुआ फिर भी उन्होंने इस मामले का संज्ञान नहीं लिया और न ही कड़ी कार्रवाई की बात कही आखिर ऐसा क्यों?

वायरल वीडियो यहाँ देखें –

इसे भी पढ़े – सड़क की मांग कर रहे ग्रामीणों से मिले पूर्व सांसद

सोशल मीडिया में वायरल हुआ संदीप

हमें youtube पर भी देख सकते हैं – Click Here

error: Content is protected !!